MGNREGA 2022

MGNREGA: महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण स्वरोजगार योजना

MGNREGA: वर्ष 2021-22 हेतु महात्मा गांधी नरेगा के वार्षिक कार्य योजना का निर्माण ग्राम पंचायत विकास योजना सब की योजना सबका विकास के तहत 1 दिसंबर 2020 से प्रारंभ MGNREGA वार्षिक कार्य योजना निर्माण के भागीदार बनकर सबकी योजना सबका विकास को सफल बनाएं

Download Job Card Click Here
Job Card Print Click Here



ग्रामीण विकास विभाग बिहार सरकार के तरफ से महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण स्वरोजगार योजना—MGNREGA दोस्तों आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बताएंगे कैसे महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के अंतर्गत रोजगार पा सकते हैं एवं इस रोजगार योजना में कौन-कौन से व्यक्तियों का लाभ दिया जाता है एवं इस योजना के अंतर्गत किस प्रकार के काम को निपटारा किया जाता है महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार योजना (MGNREGA) के अंतर्गत विभिन्न प्रकार की रोजगार का सृजन किया जाता है इसी से संबंधित इस लेख में आपको जानकारी मिलने वाले हैं इस आर्टिकल को पूर्ण रूप से पढ़ें




MGNREGA Overview

योजना का नाम MGNREGA (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण स्वरोजगार योजना)
लाभार्थी इंडियन सिटीजन
राज्य बिहार
विभाग ग्रामीण विकास विभाग बिहार
काम का प्रकार प्रति दिन के अनुसार
आवेदन प्रक्रिया ऑफलाइन
अधिकारिक वेबसाइट brds.bih.gov.in
योजना की स्थिति चालू है

Manrega Form

व्यक्तिगत लाभ की निम्नलिखित योजना ली जा सकती है जैसे

  • वृक्षारोपण (बागवानी पौधे अथवा विस्तृत रूप से क्षेत्र)
  • पोखर
  • वर्मी कंपोस्ट
  • मवेशी शेड
  • बकरी शेड
  • कुक्कुट शेड




व्यक्तिगत लाभ योजना हेतु लाभार्थियों का चयन (Selection of Beneficiaries for Individual Benefit Scheme)

  • अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति
  • युग्मित जनजाति
  • गैर अनुसूचित जनजातियां
  • गरीबी रेखा से नीचे के परिवार एसईसीसी (SECC) अंतर्गत डिप्रेशन फैक्टर के अनुसार
  • महिला प्रधान परिवार
  • दिव्यांग प्रधान परिवार
  • भूमि सुधार के लाभार्थी
  • प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण इंदिरा आवास योजना के लाभार्थी
  • अनुसूचित जनजाति एवं पारंपरिक वनवासी वन अधिकार मान्यता अधिनियम 2006 के अधीन लाभार्थी
  • लघु या सीमांत कृषक निजी भूमि पर सामाजिक वानिकी
फसल सहायता ऑनलाइन यहाँ क्लिक करें 
राशन कार्ड लिस्ट नाम देखे यहाँ क्लिक करें 
PM Kisan योजना ऑनलाइन करें 

निजी भूमि पर सामाजिक वानिकी (Social Forestry on Private Land) MGNREGA

  • लाभुकों के स्वामी की भूमि पर 200 पौधों की एक इकाई का वृक्षारोपण
  • लाभुक के पास पर्याप्त भूमि नहीं होने पर दो या तीन किसानों की भूमि मिलाकर भी 200 पौधे लगाए जा सकते हैं
  • लाभुक के पसंद के कास्ट फलदार पौधे लगाए जाएंगे
  • पौधों की सुरक्षा के लिए बांस गए विज्ञान का प्रावधान
  • पौधों के पटवन हेतु चापाकल एवं पानी टंकी ट्रॉली का प्रावधान
  • 200 पौधों की प्रत्येक इकाई पर लाभुक के परिवार के एक सदस्य को 5 वर्षों के लिए 1 पोषक बनाए जाने का प्रावधान
  • 80% या अधिक पौधों की उत्तरजीविता होने पर आठ मानव दिवस प्रतिमाह की राशि मजदूरी के रूप में दिए जाने का प्रावधान
  • रोपित वृक्षों पर लाभुक परिवार का पूर्ण अधिकार

 

आवेदन करने की प्रक्रिया (Application process)

  • Application Form पंचायत रोजगार सेवक पंचायत तकनीकी सहायक कनीय अभियंता कार्यक्रम पदाधिकारी जिला कार्यक्रम पदाधिकारी जीविका कर्मी से प्राप्त किया जा सकता है
  • Form का प्रपत्र इस http://brds.bih.nic.in वेबसाइट पर उपलब्ध है यहां से डाउनलोड किया जा सकता है
  • भरे हुए आवेदन पत्र को वार्ड सभा /ग्राम सभा की बैठक के दौरान या अथवा कभी भी मनरेगा कर्मी ग्राम पंचायत जीविका को दिया जा सकता है
  • सभी प्राप्त आवेदनों को प्राथमिकता निर्धारण हेतु ग्राम सभा के समक्ष रखा जाएगा
  • ग्राम सभा से स्वीकृत होने के उपरांत व्यक्तिगत लाभ योजना शुरू कर दी जाएगी

मनरेगा (MGNREGA) कामगारों के लिए महत्वपूर्ण दिशा निर्देश

  • घर से बाहर निकलते समय और काम के दौरान मुंह और नाक को मास्क या गमछे या साफ कपड़े से जरूर ढक कर रखें एवं
  • 1 मीटर की दूरी बनाए रखें
  • गले मिलना है हाथ मिलाना पूर्ण रूप से वर्जित है
  •  बार-बार साबुन से हाथ धोने 20 सेकंड तक
  • सार्वजनिक स्थानों पर ना थूके
  • अपनी आंख , नाक या मुंह को नहीं छुए
  • लक्षण दिखने पर डॉक्टर से जांच कराएं( बुखार, सूखी, खांसी, सांस लेने की परेशानी)
  • गर्म पानी पीते रहे
  • पौष्टिक आहार खाते रहे




HelpDesk:

To Get More Information, You can Contact Toll Free Number: 1800313 933

Updated: 11/13/2021 — 4:39 PM