PM Kisan Rft Sign: खुशखबरी- खाता में 2 हजार रूपए जल्द 12 कड़ोड़ किसानो

PM Kisan Rft Sign: पीएम किसान के 12 करोड़ 50 लाख से अधिक लाभार्थियों के लिए खुशखबरी, राज्य सरकारों ने कर दिया Rft Sign पीएम किसान के 12 करोड़ 50 लाख से अधिक लाभार्थियों के लिए खुशखबरी, राज्य सरकारों ने कर दिया Rft Sign

पीएम किसान के 12 करोड़ 50 लाख से अधिक लाभार्थियों के लिए खुशखबरी है। पीएम किसान सम्मान निधि की 11वीं या अप्रैल-जुलाई 2022 की किस्त बहुत जल्द आपके खाते में गिरने वाली है। राज्य सरकारों ने पात्र किसानों के लिए Rft Sign कर दिया है। अगर आपके स्टेटस में Rft Signed by State For 8th Installment या फिर आपकी जो किस्त बनती हो, जैसे 11वीं है तो Rft Signed by State For 11th Installment मिले तो 11वीं किस्त बहुत जल्द आने वाली है।। क्योंकि पिछले साल 15 मई को किस्त जारी की गई थी।

PM-Kisan Village Wise List

pm kisan 11th installment rft sign
PM Kisan 11th Installment News

PM Kisan 11th Installment Checking Process 2022

पीएम किसान की 11वीं किस्त के लिए eKYC जरूरी, पोर्टल से नहीं हो रहा तो ऐसे करें पूरी

आपकी किस्त आएगी या नहीं इसके लिए सबसे पहले आपको अपने पीएम किसान खाते का Status चेक करना पड़ेगा। इसके लिए आप अपने मोबाइल या कंप्यूटर पर इस स्टेप्स को Follow करें

  • Step-1: पहले PM Kisan की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं। यहां आपको दाएं साइड पर ‘Farmers Corner’ का विकल्प मिलेगा
  • Step-2: यहां ‘Beneficiary Status’ के Option पर क्लिक करें। यहां नया पेज खुल जाएगा।
  • Step-3: नए पेज पर आधार नंबर या बैंक खाता संख्या में से किसी एक विकल्प को चुनिए। इन तीन नंबरों के जरिए आप चेक कर सकते हैं कि आपके खाते में पैसे आए या नहीं।
PM Kisan Status Check 2022
PM Kisan Status Check 2022
  • Step-4: आपने जिस Option का चुनाव किया है, उसका नंबर भरिए। इसके बाद Get Data‘ पर क्लिक करें
  • Step-5: यहां Click करने के बाद आपको सभी ट्रांजेक्शन की जानकारी मिल जाएगी।
  • यानी कौनसी किस्त कब आपके खाते में आई और किस बैंक अकाउंट में Credit हुई। इस समय आपके स्टेटस में Next Installment के बारे में Rft Signed by State for 11th installment लिखा मिलेगा।

PM Kisan Rft Sign

PM Kisan Rft Sign CheckClick Here
FreejobsfindHome

Leave a Reply

Your email address will not be published.